Categories
By using our website, you agree to the use of our cookies.

Author: osholifestyle

Spooky Witch Among Candles During Ritual
Story OSHO

ओशो की मृत्यु 19 January 1990, Pune 

ओशो रजनीश (११ दिसम्बर १९३१ – १९ जनवरी १९९०) का जन्म भारत के मध्य प्रदेश राज्य के रायसेन शहर के कुच्वाडा गांव में हुआ था ओशो शब्द लैटिन भाषा के शब्द ओशोनिक से लिया गया है, जिसका अर्थ है सागर में विलीन हो जाना। १९६० के दशक में वे ‘आचार्य रजनीश’ के नाम से एवं १९७० -८० के दशक में भगवान श्री रजनीश नाम से और ओशो १९८९ के समय से जाने गये। वे एक आध्यात्मिक गुरु थे,…

Person On A Bridge Near A Lake
Motivation

That mind goes on looking at other women because you are not satisfied. 

(Osho suggested that they make love just once a week, but to have such a total experience that they were completely satisfied.) When you make love, make it really wild so that it is not just a local release, but your whole being throbs with it. You have to scream and jump so that it becomes a meditation. When you make love, the whole world should know! Then it will satisfy you so completely that for…

Spirituality And Sex Osho Sambhog Se Samadhi Osho Meditation &Amp; Relationship
Motivation

कामवासना बुनियादी तौर से व्यक्ति की जरूरत नहीं है, 

बुद्ध जीते हैं सबसे ऊंची संवेदनशीलता सहित और इससे वे पूरी अनुभूति पाते है अपनी सारी शारीरिक आवश्यकताओं की। क्या कामवासना भी एक शारीरिक आवश्यकता नहीं है तो फिर क्यों वह तिरोहित हो जाती हैं बुद्ध में? बहुत सारी चीजें समझ लेनी होंगी। पहली कामवासना भोजन की भांति कोई सामान्य जरूरत नहीं है। वह बहुत असामान्य होती है। यदि भोजन तुम्हें नहीं दिया जाता है तो तुम मर जाओगे, लेकिन बिना कामवासना के तुम जी…

Photo Of Two Women
Motivation

मैं काम का शत्रु नहीं हूं। मेरी दृष्टि में काम उतना ही पवित्र है, जितना जीवन में शेष सब पवित्र है 

ओशो विज़नसभी धर्म कामवासना के विरोध में क्यों हैं? सभी धर्म कामवासना के विरोध में क्यों हैं? यह जीवन के सर्वाधिक संवेदनशील क्षेत्रों में से एक है, क्योंकि यह मूल जीवन-ऊर्जा से संबंधित है। कामवासना…यह शब्द ही अत्यंत निंदित हो गया है। क्योंकि समस्त धर्म उन सब चीजों के दुश्मन हैं, जिनसे मनुष्य आनंदित हो सकता है, इसलिए काम इतना निंदित किया गया है। उनका न्यस्त स्वार्थ इसमें था कि लोग दुखी रहें, उन्हें किसी तरह…

Peaceful Woman Standing Behind Curtain With Raised Arms
Motivation

मन की बचकानी मांगों को- 

वास्तविक धर्म को ईश्वर और शैतान, स्वर्ग और नरक से कुछ लेना-देना नहीं है। धर्म के लिए अंग्रेज़ी में जो शब्द है “रिलीजन’ वह महत्वपूर्ण है। उसे समझो, उसका मतलब है खंडों को, हिस्सों को संयुक्त करना; ताकि खंड-खंड न रह जाएं वरन पूर्ण हो जाएं। “रिलीजन’ का मूल अर्थ है एक ऐसा संयोजन बिठाना कि अंश अंश न रहे बल्कि पूर्ण हो जाए। जुड़ कर प्रत्येक अंश स्वयं में संपूर्ण हो जाता है। पृथक…

114 Osho Meditation &Amp; Relationship
Motivation

शराब की फिक्र मत कर, ध्यान की फिक्र कर 

Osho – केवल ध्यान की फ़िक्र करो !       5 Votes ​ एक शराबी ने चार दिन पहले मुझे कहा कि छूटती नहीं।मैंने कहा, तू फिक्र ही छोड़ दे। छोड़ना भी क्या है? शराब ही पीता है; किसी का खून तो नहीं पी रहा! वह थोड़ा चौंका। उसने कहा, लेकिन शराब बड़ी बुरी चीज है। मैंने कहा, रहने दे बुरी है। बुरी पर ज्यादा ध्यान मत दे। क्योंकि जीवन के बड़े जटिल नियम हैं।अगर तुम बुरे को छोड़ने…

Osho By Oranza Gramata Book
Motivation

प्रेम और ओशो 

OSHO HINDI SPEECHES Feel the spiritual life with Osho Speeches In Your Language हम एक दूसरे में बह रहे हैं जानें हम, न जानें हमवैज्ञानिक कहते हैं कि जब तुम किसी की तरफ बहुत प्रेम से देखते हो तो तुम्हारे भीतर से एक ऊर्जा उसकी तरफ बहती है। अब इस ऊर्जा को नापने के भी उपाय हैं। तुम्हारी तरफ से एक विशिष्ट ऊष्मा, गर्मी उसकी तरफ प्रवाहित होती है ठीक वैसे ही जैसे विद्युत के…

8B7953B9063A80D928783A162622E2C9 Osho Meditation &Amp; Relationship
Motivation

ओशो जिन्होंने अमेरिका को हिला दिया था, अमेरिका के धनवानों में जिनकी गिनती होती थी वह कोरोना पर गजब का ज्ञान दे गये। 

70 के दशक में हैजा महामारी का रूप ले चुका था। तब अमेरिका में किसी ने ओशो रजनीश जी से प्रश्न किया कि-इस महामारी से कैसे  बचे ?  ओशो ने जो समझाया वो आज कोरोना के सम्बंध में भी बिल्कुल प्रासंगिक है।रजनीश ने कहा कि यह प्रश्न ही आप गलत पूछ रहे हैं, प्रश्न ऐसा होना चाहिए था कि महामारी  के कारण मेरे मन में मरने का जो डर बैठ गया है उसके सम्बन्ध में…