Motivation

The original mind exists without any motivation. It exists without any cause. It exists without any support: anasayam literally means without any support.

OSHO केंद्र और ध्यान सुविधाएं

दुनिया भर में नियमित या सामयिक आधार पर दूसरों की संगति में, एक केंद्र में एक साथ ध्यान करना एक मूल्यवान और सुखद अनुभव हो सकता है। नीचे आपको उन ध्यान केन्द्रों की पूरी सूची मिलेगी जो स्वतंत्र रूप से संचालित होने वाले:  OSHO ध्यान केंद्र, OSHO सूचना केंद्र, OSHO संस्थान और ध्यान गतिविधियों के   स्थान। ये स्थान अलग-अलग होते …

OSHO केंद्र और ध्यान सुविधाएं Read More »

दर्शन ज्ञान, ध्यान, पीड़ा से मुक्त – ओशो

ध्यान अक्रिया है – ओशो रिंझाई नाम का वहां एक साधु हुआ। उसके आश्रम को देखने, जापान का बादशाह एक दफा गया। बड़ा आश्रम था, उसमें कोई पांच सौ भिक्षु थे। वह सा धु एक-एक स्थान को दिखाता हुआ घूमा कि यहां साधु भोजन करते हैं, यहां निवा स करते हैं, यहां अध्ययन करते हैं। …

दर्शन ज्ञान, ध्यान, पीड़ा से मुक्त – ओशो Read More »

आध्यात्मिक गुरु ओशो के सर्वश्रेष्ठ प्रेरणादायक अनमोल विचार

ओशो रजनीश, 20 वीं सदी के सबसे महान विचारक और आध्यात्मिक गुरु के तौर पर जाने जाते हैं| धर्म और पाखंड पर कड़े व्यंग्य करने की वजह से अनेकों बार उनका विरोध भी हुआ परन्तु उनके दार्शनिक विचार आज भी प्रेरणा स्रोत हैं| ओशो का कहना था कि आप बिना जाने किसी भी धर्म या …

आध्यात्मिक गुरु ओशो के सर्वश्रेष्ठ प्रेरणादायक अनमोल विचार Read More »

एक ओंकार सतनाम – Ek Omkar Satnam – osho

“नानक ने परमात्मा को गा-गाकर पाया। गीतों से पटा है मार्ग नानक का। इसलिए नानक की खोज बड़ी भिन्न है। नानक ने योग नहीं किया, तप नहीं किया, ध्यान नहीं किया। नानक ने सिर्फ गाया। और गाकर ही पा लिया। लेकिन गाया उन्होंने इतने पूरे प्राण से कि गीत ही ध्यान हो गया, गीत ही …

एक ओंकार सतनाम – Ek Omkar Satnam – osho Read More »

जागरण और विश्रांति Meditation for busy people

जागरण और विश्रांति पहला चरण: प्रति दिन सजगता ” प्रति दिन सामान्य क्रियाओं के बारे में सजग रहना सीखो, और जब अपनी सामान्य क्रियाएं कर रहे हो तब रिलैक्स रहो। तनाव लेने की कोई जरूरत नहीं है। जब तुम फर्श को धो रहे हो, तब तनावपूर्ण होने की क्या जरूरत? या जब तुम खाना बना …

जागरण और विश्रांति Meditation for busy people Read More »

दोस्ती की मेरी समझ गलत है तो दोस्ती क्या है?

मेरे कई दोस्त हैं, लेकिन संकट के इस समय में सवाल आया: सच्चा दोस्त कौन है? “आप गलत छोर से पूछ रहे हैं। कभी मत पूछो, ‘मेरा असली दोस्त कौन है?’ पूछो, ‘क्या मैं किसी का सच्चा दोस्त हूँ?’ यही सही सवाल है। आप दूसरों के बारे में चिंतित क्यों हैं – वे आपके मित्र हैं या नहीं? “कहावत है: …

दोस्ती की मेरी समझ गलत है तो दोस्ती क्या है? Read More »

खुले-आम सेक्स, नशा और आजादी! ओशो के आश्रम बच्चे का अनुभव

ओशो की ‘मायावी दुनिया’ का अनुभव इस बच्चे के लिए कैसा था? ओशो की विचारधारा से प्रभावित होने के बाद लोगों की जिंदगी बदल जाती है. वाइल्ड वाइल्ड कंट्री में नोवा मैक्सवेल नाम के व्यक्ति के बारे में दिखाया गया है कि कैसे उसका बचपन रजनीश यानी ओशो के आश्रम में गुजरा और बाहर आने …

खुले-आम सेक्स, नशा और आजादी! ओशो के आश्रम बच्चे का अनुभव Read More »

गौतम बुद्ध की एक ध्यान-विधि – OSHO Vipassana Meditation

यह विधि गौतम बुद्ध की एक ध्यान-विधि पर आधारित है। यह सजगता, जागरूकता, होशपूर्णता और साक्षीत्व के अभ्यास के लिए है। ओशो की विपस्सना विधि नीरस न होकर एक सुखद, “रसपूर्ण” अनुभव है। विपस्सना ध्यान कई प्रकार से किया जा सकता है। निम्नलिखित ओशो की विपस्सना ध्यान-विधि एक घंटे की है और दो चरणों में विभाजित है। निर्देश:यह एक घंटे …

गौतम बुद्ध की एक ध्यान-विधि – OSHO Vipassana Meditation Read More »

Scroll to Top